फेसबुक के नाम बदलने की वजह आपको हैरान कर देगी ! वर्चुअल क्रांति करने जा रहा है फेसबुक !

फेसबुक (FACEBOOK) अब META हो गया है। फेसबुक ने अपना कॉर्पोरेट नाम बदलकर मेटा META कर लिया है। हालांकि फेसबुक, इंस्टाग्राम या व्हाट्सअप पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ेगा। ये इन्हीं नामों से पुरानी सेवाओं के साथ पहले की तरह चलते रहेंगे। नए नाम के साथ ही फेसबुक की पेरेंट कंपनी में कुछ बदलाव किए जाएंगे। 

  • नाम बदलने की असली वजह क्या है
  • क्या है Meta का वर्चुअल वर्ल्ड ?
  • मार्क जकरबर्ग की क्या तैयारी है ?
  • मेटा का अर्थ क्या होता है ?

नाम बदलने की असली वजह

फेसबुक ने अपना नाम बदलकर मेटा इसलिए किया है क्योंकि वो मेटावर्स वर्ल्ड की तैयारी कर रह है। इसका मतलब ये है कि अब फेसबुक अपना दायरा फैलाकर सोशल मीडिया से वर्चुअल वर्ल्ड में जाने की तैयारी कर रहा है।

क्या है Meta का वर्चुअल वर्ल्ड ?

मेटा कंपनी फेसबुक को वर्चुअल क्रांति की ओर आगे बढ़ाएगी। मेटावर्स एक ऐसी काल्पनिक दुनिया होगी जहां लोग अपनी आइडेंटिटी के साथ 3D रूप में एक दूसरे से मिल सकेंगे और आपस में बात कर सकेंगे। वो साथ में बैठ सकेंगे और अपने एहसास सांझा करेंगे। मेटा का पूरा ध्यान सोशल मीडिया के अगले चरण यानी वर्चुअल दुनिया की तरफ रहेगा। मेटा नए प्रोडक्ट्स और सर्विसेज लॉन्च करेगा जो वर्चुअल वर्ल्ड से जुड़ी होंगी।

मार्क जकरबर्ग की क्या तैयारी है ?

फेसबुक के CEO मार्क जकरबर्ग ने कहा कि वो जो काम करने जा रहे हैं उसके लिए मौजूदा ब्रांड फेसबुक काफी नहीं है। ऐसे में उन्हें एक ऐसे ब्रांड की जरूरत है जो उनके भविष्य के कामों को आगे बढ़ा सके। इसलिए फेसबुक की रीब्रांडिंग की गई है। 

मेटा का अर्थ क्या होता है ?

जकरबर्ग ने बताया कि मेटा का ग्रीक में मतलब होता है बीऑन्ड यानी सीमा से पार। जकरबर्ग  और नई कंपनी मेटा वर्चुअल दुनिया की सीमा के पार जाना चाहती है। इसलिए ये बदलाव किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.