क्रिप्टो मुद्रा निवेश के नाम पर बिल्डर से ठगी, मुंबई का एक इंजीनियर गिरफ्तार

ऑनलाइन निवेश के नाम पर एक बिल्डर से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने के मामले में पुलिस ने मुंबई निवासी एक इंजीनियर को गिरफ्तार किया है।

ऐसा आरोप है कि यह ठगी एक वेबसाइट के माध्यम से क्रिप्टो मुद्रा में निवेश कर भारी मुनाफा कमाने का लालच देकर की गई थी।

जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि ठगी की रकम चीन, फिलीपीन, मलेशिया और अन्य देशों में भेजी गयी है। पुलिस ने इस मामले में जिस व्यक्ति को गिरफ्तार किया है उसका बैंक खाता इस ठगी में इस्तेमाल हुआ था। अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है।

नोएडा के साइबर अपराध थाने की प्रभारी निरीक्षक रीता यादव ने बताया कि मेरठ के रहने वाले योगेंद्र कुमार चौधरी ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि जुलाई में टेलीग्राम सहित इंटरनेट मीडिया के अन्य मंचों पर उनकी मुलाकात एनी नामक महिला से हुई। एनी ने अपनी वेबसाइट के बारे में योगेंद्र को बताया और वेबसाइट के माध्यम से क्रिप्टो मुद्रा में निवेश कर भारी मुनाफा कमाने का लालच दिया। उन्होंने बताया कि आरोपियों ने शुरुआती दिनों में योगेंद्र चौधरी को कुछ मुनाफा दिया। उन्हें उनकी बातों पर विश्वास हो गया तथा उन्होंने आरोपियों के खाते में एक करोड़ 84 लाख 70 हजार रुपए भेज दिए।

उन्होंने बताया कि बाद में आरोपियों ने उन्हें रकम देनी बंद कर दी। उन्हें जब शक हुआ तो उन्होंने इस मामले की शिकायत साइबर अपराध थाने में की।

यादव ने कहा कि साइबर अपराध पुलिस ने मुंबई में रहने वाले इंजीनियर भूलेश्वर नाथ मिश्रा को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि अभियुक्त के बैंक खाते में ठगी के 35 लाख रुपये भेजे गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.