फिर पटरी पर दौड़ेगी दिल्ली

दिल्ली में कोरोना केस घटने के साथ ही केजरीवाल सरकार ने लॉकडाउन में छूट देने की शुरुआत की है। दिल्ली मेट्रो के पहिए 50% क्षमता के साथ 7 जून से एक बार फिर पटरी पर दौड़ते नजर आएंगे।

दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने इसकी घोषणा करते हुए जानकारी दी कि सोमवार को केवल 50% ट्रेनों को अलग-अलग लाइनों पर लगभग 5 से 15 मिनट के अंतराल के साथ चलाया जाएगा। इसका मतलब ये हुआ कि अगर आपको दिल्ली मेट्रो में यात्रा करनी है तो आपको 5 से 15 मिनट तक अगली मेट्रो का इंतजार करना होगा।

दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने 50% क्षमता के साथ 50% ट्रेनों को चलाने का फैसला दिल्ली सरकार की नई गाइडलाइंस के तहत लिया है। दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने ये भी जानकारी दी है कि चरणबद्ध तरीके से मेट्रो की संख्या और फ्रीक्वेंसी बढ़ाई जाएगी।

आम जनता के लिए मेट्रो रेल के दरवाजे खोलने से पहले मेट्रो निगम ने लोगों से कोरोना संबंधित सतर्कता बरतने की अपील की है। दिल्ली मेट्रो ने यात्रियों से यात्रा से कुछ समय पहले स्टेशन पहुंचने और ट्रेन या स्टेशन पर भीड़ ना लगाने की सलाह दी है।

साथ ही लोगों को यह भी जानकारी दी गई है कि मेट्रो स्टेशन के भीतर आने के लिए कुछ चुनिंदा गेट ही खोले जाएंगे। दिल्ली सरकार और दिल्ली मेट्रो रेल निगम के इस फैसले से उन लोगों ने राहत की सांस ली है जो सोमवार से ऑफिस जाने की शुरुआत करने वाले हैं।

आपको बता दें की लॉकडाउन के दौर से पहले मेट्रो रोज 2700 फेरे लगाती थी और इसमें 15 लाख यात्री सफर करते थे। लॉकडाउन की वजह से दिल्ली मेट्रो को भारी वित्तीय घाटा झेलना पड़ा है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में दिल्ली मेट्रो को 1784.87 करोड़ रुपये का घाटा हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.