जीबी पंत अस्पताल के मलयालम भाषा पर फरमान से बवाल, वापस लेना पड़ा आदेश

दिल्ली के जीबी पंत अस्पताल की ओर से नर्सिंग स्टाफ के लिए भाषा पर जारी सर्कुलर को विवाद के बाद वापस ले लिया गया।

दरअसल, दिल्ली के जीबी पंत अस्पताल की नर्सिंग सुपरिडेंटेंड ने एक सर्कुलर जारी किया था जिसमें कहा गया था कि ड्यूटी के दौरान नर्सिंग स्टाफ को हिंदी या अंग्रेजी में ही बात करनी चाहिए। ऐसा नहीं करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई। इसके पीछे तर्क दिया गया था कि नर्सिंग स्टाफ ड्यूटी के दौरान मलयालम भाषा का इस्तेमाल करता है जिससे मरीजों और स्टाफ को दिक्कत होती है।

कांग्रेस सांसद राहुल गाँधी ने इस विवाद पर तुरंत ट्वीट किया। राहुल ने ट्वीट में कहा कि भाषाओं के साथ भेदभाव बंद किया जाना चाहिए। शशि थरूर ने भी इस मामले को मानवाधिकारों का उल्लंघन बताया।

वहीं, पूरे मामले ने जब तूल पकड़ा तो अस्पताल ने आनन-फानन में अपना फरमान वापस ले लिया। हालंकि केंद्र ने इस विवाद के बाद अस्पताल को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब तलब किया। है।

वहीं, कांग्रेस महासचिव प्रियंका भी इस विवाद में कूद पड़ीं और उन्होंने मलयालम भाषा में ट्वीट किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.