7 तरीके जिनसे डायबिटीज होगी जड़ से खत्म

डायबिटीज के मामले में भारत को विश्व की राजधानी कहा जाता है। एक अनुमान के मुताबिक भारत में 6 करोड़ से ज्यादा लोग डायबिटीज के मरीज़ हैं। साल 2025 तक डायबिटीज के मरीजों की संख्या बढ़कर 7 करोड़ और 2030 तक 8 करोड़ तक पहुंच सकती है।

दुनिया भर में डायबिटीज के मरीजों की कुल संख्या 23 करोड़ है। आने वाले 20 सालों में डायबिटीज के मरीजों की संख्या 35 करोड़ तक पहुंच सकती है।

डायबिटीज एक बेहद खतरनाक बीमारी है जिसकी वजह से अंधापन, किडनी रोग, दिल की बीमारी समेत कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।

डायबिटीज का सबसे बड़ा कारण बिगड़ता हुआ लाइफस्टाइल को माना जाता है। गलत खानपान और कम शारीरिक श्रम करने से डायबिटीज हो सकती है। नई मेडिकल शोधों में पाया गया है कि टाइप-टू डायबिटीज से पूरी तरह छुटकारा पाया जा सकता है।

चलिए आपको बताते हैं वोे 7 तरीके जिनके जरिए टाइप-टू डायबिटीज को पूरी तरह खत्म किया जा सकता है।

चीनी, ग्लूकोज और कार्बोहाइड्रेट्स वाले पदार्थों का सेवन कम करें। आलू, चावल और ऐसा खाना जिस में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा है उन्हें कम खाएं। आम तौर पर हम रोटी और चावल के बिना भोजन नहीं करते हैं लेकिन ज्यादा रोटी या चावल खाने से शुगर बढ़ता है क्योंकि इनमें काब्रोहाइड्रेट होता है जो शरीर में जाकर शुगर बन जाते है। शुगर के मरीज़ों के लिए लो-कार्ब्स डाइट बेहतर होती है।

डायबिटीज का सीधा संबंध शारीरिक क्रियाशीलता से हैं यानी आपने जितनी शुगर, ग्लूकोस या कार्बोहाइड्रेट का सेवन किया है आपको शारीरिक श्रम करके उसे इस्तेमाल करना है। इसके लिए ये जरूरी है कि नियमित व्यायाम किया जाए, पैदल चला जाए या दौड़ लगाई जाए। इससे शरीर में पहुंचने वाली शुगर इस्तेमाल हो जाएगी और शुगर का लेवल कम रहेगा।

शुगर के मरीजों को ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए। ज्यादा पानी पीने से चाय या अन्य सॉफ्ट ड्रिंक पीने की इच्छा पर काबू पाया जा सकता है। ज्यादा पानी पीने से इंसुलिन बेहतर काम करता है और इससे मोटापा कम करने में भी मदद मिलती है।

डायबिटीज के मरीजों को स्मोकिंग नहीं करनी चाहिए। स्मोकिंग से शुगर लेवल बढ़ सकता है और कई अन्य जटिलता हो सकती है। ऐसे में स्मोकिंग या किसी भी तरह के तंबाकू के सेवन से बचना चाहिए।

डायबिटीज के मरीज विटामिन-डी का लेवल बढ़ाएं। कई अध्ययनोंं में पाया गया है कि जिन लोगों का विटामिन-डी कम होता है उन्हें डायबीटीज होने की आशंका बढ़ जाती है। धूप में बैठने से प्राकृतिक रूप से विटामिन-डी प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा मछली और कोड लिवर ऑयल में भी विटामिन डी भारी मात्रा में पाया जाता है।

डायबिटीज के मरीजों को बाज़ार का तला हुआ खाना और प्रोसेस्ड फूड जैसे ब्रेड, बर्गर-पिज़्ज़ा खाने से बचना चाहिए। इन खाद्य पदार्थों को खाने से शुगर का लेवल बढ़ता है।

डायबिटीज के मरीजों को कम मीठा सेब, जामुन, अमरूद, कीवी और कच्चा पपीता जैसे फल खाने चाहिए। इन फलों में शुगर कम होती है जबकि अन्य पौष्टिक पदार्थ ज्यादा होते हैं।

ये वो 7 कदम हैं जिन्हें चलकर आप डायबिटीज़ को हरा सकते हैं और स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। हम आपके अच्छे स्वास्थ्य और लम्बे जीवन की कामना करते हैं।

अगर आप इनमें से किसी तरीके को पहले से आज़मा रहे हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर ज़रूर बताएं। अगर आप किसी और नुस्खे से डायबिटीज को काबू करते हैं तो भी कमेंट कर ज़रूर बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.