कहाँ थे आप ‘सरकार’ जब जनता कर रही थी हाहाकार

मुझे यकीन हैं की पिछले एक महीने में आपने भी खुद को कभी न कभी माज़बूर…